India
10,572,672
Total confirmed cases
Updated on January 17, 2021 9:37 pm
Monday, January 18, 2021
    Home राज्य छत्तीसगढ़ 342 पूरक परीक्षा केंद्र में 10 - 12 वीं के 8 हजार...

    342 पूरक परीक्षा केंद्र में 10 – 12 वीं के 8 हजार परीक्षार्थी लिखेंगे 28 से पर्चा


    Publish Date: | Wed, 25 Nov 2020 06:53 PM (IST)

    कोविड नियमो के साथ होगा परीक्षा,10 से अधिक छात्र नही बैठ पाएंगे एक कमरे में

    जिले के 110 केंद्र में कही 1 तो कही 2 की संख्या दिलाएंगे परीक्षा

    रायगढ़।

    माध्यमिक शिक्षा मंडल ने कक्षा दसवीं और बारहवीं की पूरक परीक्षा की तिथि घोषित कर दी है। परीक्षा 28 नवंबर से शुरू हो रही है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए मंडल ने परीक्षा के लिए दिशा निर्देश जारी कर दी है। परीक्षा के लिए गोपनीय सामग्री का वितरण म्युनिसिपल स्कूल में किया जा चुका है। वही पहली बार जिले के 342 केंद्रों में पूरक परीक्षा आयोजित की जाएगाी। जिसमें लगभग 8 हजार एक कमरे में 10 से अधिक परीक्षार्थियों को नहीं बैठाया जाएगा। जिसमें लगभग 8 हजार परीक्षार्थी लिखेंगे 28 से पर्चा लिखेंगें ।

    विगत कुछ दिनों से स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा सभी केंद्र को परीक्षा व गोपनीय समाग्री वितरित करते हुए इस कार्य को पुरा कर चुकी है। वही पूरक परीक्षा को लेकर शासन – प्रशासन के जारी दिशा निर्देश के अनुसार दो परीक्षार्थियों के बीच कम से कम 2 फीट की दूरी अनिवार्य होगी। परीक्षा दो पालियों में आयोजित की जाएगी। वही इस पुरक परीक्षा में निर्धारित पाठ्यक्रम के अलावा 5 व्यवसायिक विषय के पूरक परीक्षार्थी भी शामिल हैं। यहां यह बताना लाजमी होगा कि बीते वर्ष लगभग सौ से अधिक केंद्र बनाया गया था लेकिन इस वर्ष इसकी संख्या दुगनी होकर 342 हो गई है। इसकी वजह कोरोना है। इसके अलावा यह पहला अवसर है जब बड़े से बड़े ब्लाक स्तरीय के स्कूलों में कही एक बच्चे तो कही 2 तो कही 5 व 7 बच्चे पूरक का परीक्षा का पर्चा लिखेंगे। यह स्थिति जिले के 110 से अधिक केंद्र की है। जिसमें दसवीं- बारहवीं दोनों कक्षा के छात्र छत्राएं है। कोरोना दिशा निर्देश के मुताबिक बच्चों को 2 गज दूर बैठाना है। इस वजह से पूरक आए बच्चों दूर अपने स्कूल में ही परीक्षा दिला पा रहे है। उन्हें दूर जाने की समस्या से निजात मिला है। फिलहाल स्कूल शिक्षा विभाग पूरक परीक्षा के लिए पूरी तैयारियां कर चुका है।

    केंद्राध्यक्ष प्राचार्य करेंगे मास्क और सैनिटाइजर व्यवस्था

    कोरोना संक्रमण को देखते हुए केंद्रों में बिना मास्क लगाए बिना प्रवेश नहीं दिया जाएगा। परीक्षार्थियों के लिए केंद्रों में सैनिटाइजर की सुविधा अनिवार्य की गई है। व्यवस्था की पूरी जिम्मेदारी केंद्राध्यक्ष प्राचायोर् पर होगी। परीक्षार्थी व शिक्षकों को बिना मास्क के केंद्र में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। केंद्र में प्रवेश और बाहर निकलने के दौरान परीक्षार्थियों के बीच सुनिश्चित दूरी का पालन कराने की जिम्मेदारी शिक्षक और प्राचायोर् की होगी।

    28 नवंबर से दो पालियों 14 दिसंबर तक चलेगा पेपर

    28 नवंबर से शुरू हो रहे बारहवीं की परीक्षा सुबह 8ः30 से 11ः30 बजे व दसवी की परीक्षा दोपहर 1 से 4 बजे के बीच आयोजित होगी। मुख्य परीक्षा के दौरान प्राचायोर् को स्वयं के स्कूल के बजाय दूसरे स्कूल में केंद्राध्यक्ष की जिम्मेदारी दी जाती थी, लेकिन पूरक परीक्षा में इसकी जिम्मेदारी स्वयं के ही स्कूल के प्राचायोर् को दी गई है। सरकारी के अलावा निजी स्कूलों को भी केंद्र बनाया गया हैं। नकल रोकने के लिए उड़नदस्ता टीम भी गठित की गई है।

    जिले का सबसे बड़े स्कूल में सबसे अधिक परीक्षार्थी

    जिले में विगत 7 दशक से भी अधिक समय से नटवर स्कूल सबसे बड़ा स्कूल होने का तमगा लिए हुआ है। आलम यह है कि एक तरफ जहां कोरोना कर कारण कुछ स्कूलों में एक्का – दुकका बच्चे ही बैठकर परीक्षा दिलाएंगे तो दूसरी तरफ नटवर स्कूल के बड़े बड़े कमरे में 10 वीं में 49 बच्चे व 12 वीं में 98 बच्चे, इसी तरह खरसिया के नवागांव स्कूल में 10 वीं के 57 छात्र,सारंगढ़ बालिका स्कूल में 74 , वही 12 वीं में धरमजयगढ़ स्कूल में 51 वे कोसीर में 45 बच्चे परीक्षा दिलाएंगे। इस तरह जिले में ये केंद्र सबसे बड़े बच्चे वाले केंद्र है।

    इन केंद्र में सबसे कम परिक्षार्थी

    जिले में कुछ केंद्र अेसे भी है जहां 10 -12 वीं के छात्र छत्राएं 1 -2 व तीन या 5 की संख्या में परीक्षा दिलायेंगे। जिसमें 10 वीं में चक्रधर नगर स्कूल में 1, बनहर 1,गगनपुर 1,गेरवानी 1 कोतरा में 2 बच्चे परीक्षा देंगे इसी तरह 12 वीं मे कांशीचुआ में 1, संबलपुरी में 1 झगरपुर में 1 बच्चे ही है। इस तरह के केंद्र 100 से अधिक हैं । अधिकारियो के मुताबिक यहां शिक्षकों की संख्या पूरी रहेगी।

    फैक्ट फाइल

    परीक्षा केंद्रों की संख्या – 342

    दसवीं के परीक्षार्थी –

    बारहवीं के परीक्षार्थी –

    जिले में इस वर्ष कोरोना के कारण पूरक परीक्षा के केंद्र की संख्या बढ़ा है इस वर्ष कुल 342 केंद्र है जिसमें नटवर स्कूल में सबसे अधिक बच्चें परीक्षा देंगे। इसके अलावा कई ऐसे स्कूल है जहां 1 ,2 या फिर 5 की संख्या में परीक्षार्थी परीक्षा दिलाएंगे।कोविड 19 नियमो का पालन अक्षरशः कियाया जाएगा।

    आरके मेहर, परीक्षा प्रभारी

    Posted By: Nai Dunia News Network

    नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

    नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

    डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

    डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

     



    Source link

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments