India
11,079,979
Total confirmed cases
Updated on February 27, 2021 5:40 am
Saturday, February 27, 2021
    Home राज्य छत्तीसगढ़ बिरगांव में मूर्ति लगाने को लेकर पुलिस और जकांछ के बीच रस्साकशी

    बिरगांव में मूर्ति लगाने को लेकर पुलिस और जकांछ के बीच रस्साकशी


    Publish Date: | Sun, 17 Jan 2021 10:22 PM (IST)

    रायपुर। (नईदुनिया प्रतिनिधि)

    छत्तीसगढ़ महतारी और पूर्व मुख्यमंत्री स्व.अजीत जोगी की मूर्ति लगाने को लेकर रविवार को बिरगांव में जमकर रस्साकशी हुई। मूर्ति स्थापना को लेकर अड़े जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए बुधवारी बाजार में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया था। इसकी वजह से वहां पूरे दिन तनाव का माहौल बना रहा। मूर्ति स्थापना को लेकर पुलिस और जकांछ के कार्यकर्ताओं में जमकर झूमाझटकी हुई। जकांछ के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने कहा कि शांति का रास्ता अपनाते हुए हमने गिरफ्तारी दी है। हालांकि पुलिस और प्रशासन ने इस मामले में किसी को भी गिरफ्तार करने से इन्कार किया है।

    ज्ञात हो कि रविवार को ही बिरगांव नगर निगम का स्थापना दिवस था। जकांछ ने पहले ही वहां दोनों मूर्तियां स्थापित करने की घोषणा कर रखी थी। जकांछ के नेताओं का कहना है कि राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री स्व. अजीत जोगी ने बिरगांव को एक नई पहचान दिलाई थी, इसलिए आज के दिन को ऐतिहासिक बनाने के लिए बिरगांव की जनता स्व. अजीत जोगी की मूर्ति के साथ ही छत्तीसगढ़ महतारी की मूर्ति लगाने की तैयारी कर रही थी, लेकिन छत्तीसगढ़ की सरकार को यह मंजूर नहीं था, इसलिए रविवार की सुबह से ही बिरगांव को पुलिस की छावनी तब्दील कर दिया गया था। स्थापना दिवस के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने कहा कि छत्तीसगढ़ के माटी पुत्र स्व. अजीत जोगी और छत्तीसगढ़ महतारी की मूर्ति छत्तीसगढ़ की अपनी धरती में ही स्थापित नहीं होने देना शर्मनाक है। छत्तीसगढ़ के महापुरुषों की मूर्ति छत्तीसगढ़ में न लगाएं तो फिर कहां लगाएं? यह भूपेश सरकार बताए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार का चाल, चरित्र और चेहरा सामने गया है। इनका नारा- बात हे अभिमान के, छत्तीसगढ़िया स्वाभिमान के नहीं, बल्कि बात हे अभिमान के, छत्तीसगढ़िया अपमान के’ है। जनता कांग्रेस विधायक दल के नेता, वरिष्ठ विधायक धर्मजीत सिंह ने कहा कि राज्य के पहले मुख्यमंत्री स्व. अजीत जोगी ने दबे, कुचले, पिछड़े गरीबों के लिए जो जनकल्याणकारी नीतियां बनाईं, उन्हीं की योजनाओं के आधार पर छत्तीसगढ़ को देश-विदेश में एक नई पहचान मिली।

    कार्यक्रम में इतने लोग शामिल

    कार्यक्रम में मुख्य रूप से महामंत्री महेश देवांगन, अजीत जोगी महिला

    मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष डा. अनामिका पाल, अजीत जोगी युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप साहू, अजीत जोगी छात्र संगठन प्रदेश अध्यक्ष रवि चंद्रवंशी, अजीत जोगी अनुसूचित जाति मोर्चा उदय चरण बंजारे, छत्रपाल सिरमोर, मोतीराम, बिरगांव ब्लाक अध्यक्ष वेदराम साहू, भीखम देवांगन, डा. शकील मोहम्मद फिरोज, नीतू उइके, श्रीकांत तिवारी, महेंद्र पांडे, विपिन चौबे जी आदि प्रमुख रूप से शामिल थे।

    Posted By: Nai Dunia News Network

    नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

    नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

    डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

    डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

     



    Source link

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments